आंगनवाड़ी न्यूज़आंगनवाडी प्री प्राईमरी न्यूज़गाजीपुर

प्री प्राइमरी के तहत कार्यकत्रियों को दिया जायेगा चार दिवसीय प्रशिक्षण

केंद्र सरकार द्वारा जारी नयी शिक्षा नीति के तहत देश के सभी राज्यो मे 3 से 6 वर्ष तक के बच्चो के लिए प्री प्राइमरी की शिक्षा आंगनवाड़ी केन्द्रो पर दी जाएगी। इसके लिए आंगनवाड़ी केन्द्रो पर नियुक्त कार्यकत्रियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

गाजीपुर जनपद मे शासन के निर्देश पर आंगनबाडी केन्द्रों पर पंजीकृत तीन से छह वर्ष तक के बच्चों को शिक्षा देने के लिए प्री प्राइमरी के तहत आंगनबाडी वर्करो का चार दिवसीय प्रशिक्षण शुरू किया जा रहा है। इस संबंध मे बच्चो की बेसिक शिक्षा को मजबूत करने के लिए आंगनबाड़ी केंद्रों को मॉडर्न आंगनवाड़ी के रूप मे बदला जा रहा है।

पहले चरण में उन आंगनवाड़ी केंद्रों की वर्करो का प्रशिक्षण होगा जो आंगनवाड़ी जो केंद्र प्राइमरी स्कूलों के परिसर में संचालित हो रहे है प्रशिक्षण देने के बाद इन आंगनवाड़ी केन्द्रो पर कक्षाएं शुरू की जाएंगी। प्री प्राइमरी की शिक्षा पूर्ण करने के बाद वे निकट के प्राइमरी स्कूलों में कक्षा एक में दाखिला पाएंगे।

शुरुवात मे केवल 35 आंगनवाड़ी केन्द्रों की कार्यकत्रियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा जो आंगनवाड़ी केंद्र परिषदीय विद्यालय के परिसर में संचालित किए जा रहे है इन वर्करो का प्रशिक्षण अगले सप्ताह से शुरू होने की उम्मीद है। बाकी किराए या अन्य भवनो मे संचालित आंगनवाड़ी केन्द्रो की वर्करो के प्रशिक्षण का अभी कोई आदेश जारी नहीं किया गया है।

आंगनवाड़ी वर्करो को प्रशिक्षित करने के लिए प्रशिक्षुओं की नियुक्ति कर दी गई है। ये प्रशिक्षण चार दिवसीय होगा इसके लिए विभाग द्वारा बजट जारी कर दिया गया है। शिक्षा विभाग के निर्देशानुसार नई शिक्षा नीति के तहत केन्द्रो पर पंजीकृत बच्चो को पहले आंगनबाड़ी केंद्रों में प्री प्राइमरी की शिक्षा दी जाएगी। केन्द्रो की शिक्षा पूर्ण करने के बाद ये बच्चे इन्ही स्कूलो मे प्रवेश लेने के बाद आगे की पढ़ाई पूरी करेंगे।

Aanganwadi Uttarpradesh

आंगनवाड़ी उत्तरप्रदेश एक गैर सरकारी न्यूज वेबसाइट हैं जिसका मुख्य उद्देश्य केंद्र सरकार द्वारा संचालित बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग के अंतर्गत कार्यरत कर्मचारियों की गतिविधियों ,सेवाओ एवं निदेशालय द्वारा जारी आदेश की सूचना प्रदान करना है यह एक गैर सरकारी वेबसाइट है और आंगनवाड़ी उत्तरप्रदेश द्वारा डाली गई सूचना एवं न्यूज़ विभाग द्वारा जारी किए गए आदेशों पर निर्भर होती है वेबसाइट पर डाली गई सूचना के लिए कई लोगो द्वारा गठित टीम कार्य करती है

Related Articles

3 Comments

error: Content is protected !!