आंगनवाड़ी न्यूज़गोरखपुरनिर्वाचनफतेहपुरविरोध,प्रदर्शनशाहजानपुरसंभलस्मार्टफोन

मृत आंगनवाड़ी को बनाया बूथ लेबल ऑफिसर,ड्यूटी जॉइन न करने की दी चेतावनी

आंगनवाडी न्यूज़

फतेहपुर  उत्तरप्रदेश सरकार के बार बार झूठी घोषनाओ से परेशान आंगनवाडी वर्करो ने अब धरना प्रदर्शन का मन बना लिया है अब धीरे धीरे जनपदों में बगावत की चिंगारी लग चुकी है जिले में आंगनवाडी वर्करो ने प्रदर्शन करते हुए कहा कि अब तक किसी भी आंगनबाड़ी को अब राज्य व प्रदेश सरकार द्वारी दी जाने वाली प्रोत्साहन राशि या मानदेय बढ़ोत्तरी का भुगतान नहीं किया गया आंगनबाड़ी को होने वाली समस्याओं के प्रति कार्यकत्रियों ने नाराजगी जाहिर करते हुए आवाज बुलंद की जिसके बाद सीएम को सम्बोधित एक ज्ञापन डीएम के माध्यम से भेजा गया। जिसमे मांग की गई कि प्रोत्साहन राशि को मानदेय में परिवर्तन किया जाए, पोषण ट्रैक्टर के लाभार्थियों से ओटीपी का प्राविधान समाप्त किया जाए, सेवानिवृत्त कार्यकत्रियों को मानदेय से आधी धनराशि पेंशन के रूप में दी जाए, मुख्य सेविकाओं का नियमानुसार स्थानांतरण किया जाए और आंगनवाडी का मानेदय 18 हजार रुपए किया जाए। ज्ञापन द्वारा आंगनवाडी वर्करो ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि मांगो पर विचार नहीं किया जाता तो कार्य बहिष्कार करते हुए हड़ताल की जाएगी।

आंगनवाड़ी का मानदेय के नाम पर हो रहा शोषण

गोरखपुर जिला कार्यक्रम अधिकारी हेमंत कुमार सिंह ने बताया कि जिले के विभिन्न आंगनबाड़ी केंद्रों पर लंबे समय से अनुपस्थित 18 आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, मिनी आंगनबाड़ी एवं सहायिकाओं की सेवा समाप्त कर दी गई है। बार-बार नोटिस के बाद भी उनकी ओर से कोई जवाब नहीं आने पर जिलाधिकारी के निर्देश पर यह कार्रवाई की है। जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि रिक्त पदों पर दोबारा भर्ती की जाएगी।

जिला स्तरीय अधिकारियों ने आंगनबाड़ी केंद्रों का औचक निरीक्षण किया था जिलाधिकारी के निर्देश पर जिला स्तरीय अधिकारियों द्वारा 22 अक्टूबर को की गई जांच की रिपोर्ट आ गई।जिसमें छह आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं आठ सहायिका केंद्र पर अनुपस्थित मिली थीं। जिलाधिकारी ने बताया कि वर्तमान में संचारी रोग/दस्तक जागरूकता अभियान संचालित किया जा रहा है। ऐसे समय में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा घर-घर घूमकर अभियान के प्रचार- प्रसार का कार्य करना है, लेकिन कुछ कार्यकर्ता इसमें लापरवाही बरत रही हैं। अनुपस्थिति एवं कार्यों में उदासीनता बरतने के कारण जिलाधिकारी ने संबंधित आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिकाओं को कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए अक्टूबर का मानदेय रोकने का निर्देश दिया है। जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि अनुपस्थित कार्यकर्ताओं पर कार्रवाई की जाएगी।

सेवा समाप्त की गयी आंगनवाडी का ब्यौरा

बाल विकास परियोजना शहर सरिता तिवारी, सुनीता पांडेय, लालदेई, आरती द्विवेदी, राबिया, दुर्गावती देवी, प्रियंबदा सिंह, अंजू देवी, झरना टोला, रीना चौधरी, कैलाशी देवी

बाल विकास परियोजना चरगांवा सरिता श्रीवास्तव, जंगल कौड़िया से कुसुम देवी
बांसगांव से कुमारी नेहा, अनीता मौर्य, आत्मा देवी, सुशीला पाल,

खोराबार से राधिका देवी

शाहजहांपुर में आंगनवाडी वर्करो को स्मार्टफोन का वितरण शुरू

शाहजहांपुर  जनपद में बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग में कार्यरत आंगनवाड़ी वर्करो को भी हाईटेक किया जा रहा है सभी आंगनबाड़ी कार्यकत्री स्मार्ट फोन पर काम करती नजर आएंगी। स्मार्टफोन से समय से सभी अधिकारियों को एक समय में एक साथ सभी केंद्रों से बच्चों, गर्भवती व धात्री महिलाओं सहित सारी योजनाओं की अपडेट जानकारी मिलेगी। बुधवार को विधायक मानवेंद्र सिंह व ब्लाक प्रमुख मुनेंद्र पाल वर्मा ने ब्लाक ददरौल में बाल विकास परियोजना कार्यालय के सभागार में आंगनबाड़ी को स्मार्टफोन का वितरण किया। अधिकारियों के अनुसार जिले में 2416 आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को स्मार्ट फोन दिए जाने थे, जिसके सापेक्ष्य अब तक 1958 आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को स्मार्टफोन दिवाली गिफ्ट दिया गया। मंगलवार को ब्लाक तिलहर, जलालाबाद, निगोही, सिंधौली, कलान, पुवाया, बंड़ा, जैतीपुर, खुदागंज, कांट, मदनापुर खुटार, ददरौल, मिर्जापुर में ब्लाक सभागार में 1250 आंगनबाडी कार्यकत्रियों को स्मार्ट फोन वितरित किए गए।100 आंगनबाड़ी को रविवार को स्मार्ट फोन दिए गए।

मृत आंगनवाडी को बनाया बूथ लेबल ऑफिसर

संभल जनपद में सीडीपीओ शहाना खातून ने बताया कि जिन दिनों कोरोना की दूसरी लहर चल रही थी। उन दिनों आंगनवाड़ी कार्यकत्री मीनाक्षी त्यागी की मौत हुई थी। आंगनबाड़ी कार्यकत्री की मौत हो जाने के बाद भी ड्यूटी बीएलओ में लगा दी गई है। जिस मृत आंगनवाड़ी की डयूटी लगाई गई है उसके आदेश में ड्यूटी ज्वाइन नहीं करने पर कार्रवाई की चेतावनी दी गई है।जनपद में निर्वाचन नामावलियों के पुनरीक्षण के लिए 1 नवंबर से अभियान चलाया जाएगा। इसके लिए बूथ लेवल अधिकारियों की नियुक्ति की गई है और उन्हें 1 नवंबर से अपने ड्यूटी का निर्वहन करने के निर्देश सहायक निर्वाचन अधिकारी और डिप्टी कलेक्टर द्वारा दिए गए हैं। संभल में 6 महीने पहले मरने वाली आंगनवाडी कार्यकत्री को बूथ लेवल अधिकारी बना दिया।

एक नवंबर से जनपद के सभी बूथों पर मतदाता सूचियों के पुनरीक्षण का कार्य शुरू होगा। इसके लिए जनपद में बूथ लेवल अधिकारियों को नियुक्त किया है। बूथ लेवल अधिकारियों के कार्य को देखने के लिए पर्यवेक्षकों की भी तैनाती की गई है, लेकिन कर्मचारियों ने बगैर जांच पड़ताल किए ही ड्यूटी लगा दी। संभल विकासखंड की ग्राम पंचायत चौकुनी की आंगनवाड़ी कार्यकत्री मीनाक्षी त्यागी की 6 महीने पहले मौत हो चुकी है , लेकिन उन्हें भी बूथ लेवल अधिकारी बना दिया। सहायक निर्वाचन अधिकारी और डिप्टी कलेक्टर द्वारा जारी आदेश में 1 नवंबर को ड्यूटी ज्वाइन करने का आदेश दिया गया है।

 

Aanganwadi Uttarpradesh

आंगनवाड़ी उत्तरप्रदेश एक गैर सरकारी न्यूज वेबसाइट हैं जिसका मुख्य उद्देश्य केंद्र सरकार द्वारा संचालित बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग के अंतर्गत कार्यरत कर्मचारियों की गतिविधियों ,सेवाओ एवं निदेशालय द्वारा जारी आदेश की सूचना प्रदान करना है यह एक गैर सरकारी वेबसाइट है और आंगनवाड़ी उत्तरप्रदेश द्वारा डाली गई सूचना एवं न्यूज़ विभाग द्वारा जारी किए गए आदेशों पर निर्भर होती है वेबसाइट पर डाली गई सूचना के लिए कई लोगो द्वारा गठित टीम कार्य करती है

Related Articles

error: Content is protected !!